• अखिलेश ने जारी की 191 उम्‍मीदवारों की सूची, शिवपाल का भी नाम
  • पंजाब चुनाव में होंगे कांग्रेस के 40 स्टार प्रचारक

Share On

Spiritual | 18-Dec-2016 12:19:49 PM
जानें 2017 में होगी इनकम या अार्थिक तंगी



 

दि राइजिंग न्‍यूज  

नया साल कुछ ही दिनों में आने वाला है। इस साल आपके खर्चों में आएगी कमी फिर बढ़ेगी आपकी इनकम। पैसे कमाने के नए रास्ते खुलेंगे या फिर अचानक होगा धन लाभ। नौकरी में मिलेगी प्रमोशन या फिर कारोबार में होगी बढ़ोतरी।

 

जानिए धन के मामले में कैसा रहेगा आपका साल 2017-  

 

मेष: 




आपकी राशि के भाग्य के स्वामी बृहस्पतिआय भाव के स्वामी शनि की स्थिति वर्ष के प्रारंभ में ठीक नहीं है। लेकिन 26 जनवरी के उपरांत शनि के राशि परिवर्तन करने पर इनकम की स्थिति में सुधार होना शुरू हो जाएगा। इसके उपरांत 12 सितंबर को बृहस्पति राशि परिवर्तन कर केंद्र में आ जाएंगे। नौकरीपेशा वालों के लिए नवंबर के महीने में पदोन्नति मिलनी चाहिए। इनकम में समुचित वृद्धि भी होगी। कारोबार के लिए भी यह वर्ष लाभप्रद  रहेगा। आयात-निर्यात में भी वृद्धि होगी और लाभ में भी वृद्धि होगी।

 

वृष: 




आपकी राशि के भाग्येश शनि वर्ष के प्रारंभ में सप्तमस्थ होकर अपने भाव को तृतीय दृष्टि से देख रहे हैं। लेकिन 26 जनवरी को शनि के राशि परिवर्तन करने से शनि अष्टम भाव में आ जाएंगे। अत: नौकरी में कुछ परिवर्तन करा सकते हैं। 12 सितंबर को बृहस्पति एवं 17 अगस्त को राहू व केतू के राशि परिवर्तन करने से नौकरी में परिवर्तन भी होना चाहिए। साथ में कार्यक्षेत्र में भी परिवर्तन होना चाहिए। विदेश जाने के अवसर तो मिलेंगे ही। स्थान परिवर्तन भी संभव है। कारोबार में अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे।

 

मिथुन: 




आपकी राशि में शनि भाग्येश है और बुध आयेश सूर्य पराभमेश हैं। अत: आपकी राशि वालों का अधिक परिश्रम करने से ही धन की स्थिति सुदृढ़ होती है। शनि भाग्येश होने से जीवन में तरक्की भी धीरे-धीरे ही होगी। शनि के राशि परिवर्तन से तरक्की के अवसर अवश्य मिलेंगे। आयात-निर्यात का कारोबार उत्तम फल प्रदाता रहेगा। विदेश यात्रा लाभप्रद रहेगी। 26 अक्तूबर के बाद इनकम वृद्धि के स्त्रोत बढ़ सकते हैं। 

 

कर्क:




बृहस्पति आपकी राशि के भाग्य के स्वामी हैं। साल के शुरू में बृहस्पति तृतीय भाव में बैठ कर भाग्य को देख रहे हैं। बौद्धिक कार्य करने वालों को  अच्छे रिजल्ट मिलेंगे। 12 सितंबर को राशि परिवर्तन करने से ये अपनी शत्रु राशि में आ जाएंगे और पूर्ण वर्ष असहज स्थिति में रहेंगे लेकिन फिर भी भाग्य के स्वामी केंद्र में आने से अच्छे परिणाम भी देंगे। आपकी राशि के भाग्येश शुक्र व पराक्रमेश बुध साल के शुरू में अच्छी स्थिति में नहीं हैं।इसलिए  साल के शुरू में कुछ कठिनाइयां रहेंगी। लेकिन धीरे-धीरे परस्थितियों में सुधार आता रहेगा। 

 

सिंह: 




वर्षारंभ में आपकी राशि के भाग्य के स्वामी मंगल सप्तम भाव में शुक्र व केतू के साथ विराजमान हैं। अत: रोजगार सुचारु रहेगालेकिन फरवरी और 12 जुलाई से 28 अगस्त के मध्य कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। आय भाव के स्वामी बुध आय की समस्या दे रहे हैं। 23 फरवरी के बाद हालात में सुधार होगा। रुका हुआ धन मिलना शुरू हो जाएगा। 

 

कन्या: 




आपकी राशि के भाग्य के स्वामी शुक्र वर्षारंभ में केतू और मंगल के साथ षष्ठम भाव में विराजमान हैं। अत: साल के शुरू में कुछ कठिनाइयों का सामना होगा। इसके बाद परस्थितियों में सुधार हो जाएगा। पूर्वोत्तर काल में थोड़ी कठिनाइयां तो रहेंगीपरंतु साल के आखिर का समय अनुकूल रहेगा। संतोषप्रद परिणाम मिलेंगे।

 

तुला: 




आपकी राशि का भाग्येश बुधआयेश सूर्य और पराक्रमेश बृहस्पति हैं। साल के शुरू में बुध सूर्य के साथ तृतीय भावस्थ होकर अपने भाव को पूर्ण दृष्टि से देख रहे हैं। लेकिन वक्री और अस्त हैं। इसलिए साल के शुरू में रोजगार में कुछ कठिनाइयां हो सकती हैं। परिश्रम के अनुसार सफलता कम मिलेगी। शनि के राशि परिवर्तन से स्थिति में सुधार होगा। इनकम  में वृद्धि होगी। नौकरी में इस साल उन्नति के अवसर मिलेंगे। कारोबार का विस्तार होगा।

 

वृश्चिक: 




चंद्रमा आपकी राशि के भाग्य का स्वामी है। बुध आयभाव के स्वामी हैं और शनि पराक्रम भाव के। शनि की साढ़े साती के प्रभाव से कार्य व्यवसाय में उलझनें आती रहेंगी। बीच-बीच में गोचर अनुसार ग्रहों के परिवर्तन से यथानुसार परस्थितियों में परिवर्तन होगा लेकिन 17 अगस्त राहू-केतू के राशि परिवर्तन से स्थिति में परिवर्तन होगा। लाभ के अवसर मिलेंगे।

 

धनु: 




आपकी राशि में सूर्य भाग्य के स्वामी हैं। शुक्र आय भाव के स्वामी हैं और शनि पराक्रम भाव के। चूंकि आपकी राशि पर साढ़े साती का प्रभाव चल रहा है। अत: रोजगार में संघर्षपूर्ण परिस्थितियां तो रहेंगी ही इनकम में कमी व खर्चों में वृद्धि की स्थिति भी रहेगी। बीच-बीच में गोचर में ग्रहों में परिवर्तन परिस्थितियों में उतार-चढ़ाव आते रहेंगे। कोई नया कारोबार शुरू करने से बचें।

 

मकर: 




आपकी राशि के भाग्य के स्वामी बुधआय भाव के स्वामी मंगल और पराक्रम भाव के स्वामी बृहस्पति हैं। साल के शुरू में ही शनि साढ़े साती का प्रभाव होने से  फैसले लेने की क्षमता में कमी आएगी। इसलिए कार्यक्षमता और आय प्रभावित रहेगी। बीच-बीच में दूसरे ग्रहों के गोचर की स्थिति अनुसार परस्थितियां अनुकूल-प्रतिकूल होती रहेंगी।

 

कुंभ: 




शुक्र आपकी राशि के भाग्य के स्वामी हैं। बृहस्पति आय भाव के स्वामी और मंगल पराक्रम भाव के स्वामी हैं। शुक्र आपके चतुर्थ एवं नवम भाव (केंद्र व त्रिकोण) के स्वामी होने से योग कारक हैं। आपको इनकम और धर्नाजन के लिए परिश्रम अधिक करना होगा। इस साल बुद्धि विवेक के अनुसार ही आय होगी। इस वर्ष शनिबृहस्पति और राहू की मजबूत स्थितिकारोबार व नौकरी आदि में सफलता मिलेगी। मानसिक शांति रहेगी। 

 

मीन:




मंगल आपकी राशि के भाग्य के स्वामी हैं। शनि आय भाव के और शुभ कर्म भाव के स्वामी हैं। गोचर में ग्रहों की स्थिति के अनुसार परस्थितियों में थोड़ा फेरबदल होता रहेगा। लेकिन शनि व बृहस्पति और राहू-केतू का ही प्रभाव अधिक रहेगा। जिनके बारे में विस्तृत जानकारी ऊपर दी गई है।

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 

 



 

Newsletter

Click Sign Up for subscribing Our Newsletter


   Photo Gallery   (Show All)
रात के अंधेरे में खूबसूरती बिखेरता गोमती रिवर फ्रंंट । फोटो- कुलदीप सिंह
रात के अंधेरे में खूबसूरती बिखेरता गोमती रिवर फ्रंंट । फोटो- कुलदीप सिंह

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें