• अमित शाह से मिलने के लिए जालंधर से दिल्ली रवाना हुए विजय सांपला
  • सपा-कांग्रेस में गठबंधन का फॉर्मूला तय, आरएलडी 20 तो कांग्रेस 89 सीटों पर लड़ेगी चुनाव: सूत्र

Share On

Kanpur | 10-Jan-2017 04:14:03 PM
अस्‍पताल ही बन रहा मरीजों की मौत का कारण, पढ़ें कैसे

  • हैलट में मरीज को नहीं मिला ऑक्‍सीजन सिलेंडर तो हो गई मौत
  • आक्‍सीजन सिलेंडर के लिए रात भर भटकते रहे मरीज के परिजन 



 

दि राइजिंग न्‍यूज

10 जनवरी, कानपुर।

हैलट में एक बार फिर डॉक्‍टरों की संवेदनहीनता सामने आई है। सोमवार देर रात ऑक्‍सीजन सिलेंडर न मिलने से एक वृद्धा की तड़प-तड़प कर मौत हो गई। वृद्धा के परिजन रातभर आक्‍सीजन सिलेंडर के लिए भटकते रहे। लेकिन सिलेंडर नही मिला। हांलाकि परिजनों ने बिना कंपलेन किए शव लेकर चले गए।

सरसौल निवासी 60 वर्षीय रमादेवी की को तीन तारीख को ब्रेन हैमरेज हुआ था। गंभीर अवस्‍था में उनके परिजनों ने उपचार के लिए हैलट अस्‍पताल में भर्ती करवाया था। बेटे सुनील का आरोप है कि देर रात मां रमा देवी को श्‍वास लेने के लिए लगा आक्‍सीजन सिलेंडर खत्‍म हो गया।

सिलेंडर खत्‍म होते ही उनकी हालत बिगड़ने लगी। आक्‍सीजन सिलेंडर के लिए डाक्‍टरों के पास गए तो डाक्‍टर अपने चैंबर में सो रहे थे। जिस पर सु‍नील ने वहां काम करने वाले स्‍टाफ से गुहार लगाई तो वह अनसूना कर चल दिया। आक्‍सीजन सिलेंडर नही मिलने से देर रात मां की तड़प-तड़प कर मौत हो गई। वृद्धा की मौत के बाद सुनील बिना कंप्‍लेन किए शव लेकर चला गया। सुनील का कहना था कि कंप्‍लेन करने से क्‍या होगा मां की तो मौत हो चुकी है।

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 

 



 

Newsletter

Click Sign Up for subscribing Our Newsletter


   Photo Gallery   (Show All)
सर्द की भोर में कोहरे से लिपटा दुधवा नेशनल पार्क । फोटो- कुलदीप सिंह
सर्द की भोर में कोहरे से लिपटा दुधवा नेशनल पार्क । फोटो- कुलदीप सिंह

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें