• अखिलेश ने जारी की 191 उम्‍मीदवारों की सूची, शिवपाल का भी नाम
  • पंजाब चुनाव में होंगे कांग्रेस के 40 स्टार प्रचारक

Share On

आज गायकों के पास काम है, मुकाम नहीं

  • तू खींच मेरी फोटो... वाला गाना गाकर चर्चा में आईं अकासा ने की मन की बात



 


दि राइजिंग न्‍यूज

संगीत की दुनिया में अकासा का नाम भले ही नया हो लेकिन उनकी पारिवारिक जड़ें इस क्षेत्र में किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं। उनके पिता अरविंदर और भाई असा सिंह संगीत जगत में नए आयाम स्‍थापित कर चुके हैं। उनके पिता का एलबम तो कई वर्षों पहले ही धूम मचा चुका है। तू खींच मेरी फोटो... से मशहूर हो चुकीं अकासा ने दि राइजिंग न्‍यूज से बातचीत में संगीत की वर्तमान और भविष्‍य की बातें साझा कीं।


 

गायक बनने की प्रेरणा कहां से मिली और परिवार में कौन-कौन इससे जुड़े हैं?

पिता अरविन्‍दर सिंह भी एक अच्छे गायक हैं, जिन्‍होने शराब पर कई गाने गाकर शोहरत कमाई है। मेरा छोटा भाई असा सिंह भी एक अच्‍छे गायक के रूप में उभर रहा है। भाई को माई फादर इकबाल में गाने के बाद ब्रेक मिला है।



किस घराने से ताल्‍लुक रखती हैं?

पिता और मैं भी जयपुरी घराने से जुड़े हैं। वहां के इतिहास और गायकी ने हमेशा ही कुछ नया और अच्‍छा करने की प्रेरणा दी है।



कब से संगीत सीख रही हैं?

पांच साल की उम्र से ही पिता ने संगीत का ज्ञान देना शुरू कर दिया था। इसके बाद घरेलू कार्यक्रमों में और पिता के साथ मंच पर उपस्थित रहती थीजिससे गायकी की ओर रूझान बढ़ता गया।



शहर में संगीत के प्रति कैसा रूझान दिखा?

नगर के लोग गीत और संगीत से अधिक प्रेम करते हैं। इस बात का अध्‍ययन करने के बाद शहर में भी कई प्रकार के कार्यक्रम कराकर नई प्रतिभा तलाशने का प्रयास करूंगी। आगे संगीत एकेडमी बनाकर ज्‍यादा से ज्‍यादा नई प्रतिभाओं को निखारने का काम करने का मन है।



वर्तमान दौर में गायकी को कैसे आंकती हैं?

संगीत का क्षेत्र बहुत ही बड़ा है पर आज के गायकों के पास काम तो है लेकिन उनको वह मुकाम नहीं मिल पा रहा है जिसके वह हकदार हैं। संगीतकार भी आज नए आयाम स्‍थापित कर रहे हैं। इससे गायकी और भी कठिन होती जा रही है। आज के इस युग में केवल डांस के लिए ही गाने लिखे और गाए जा रहे हैं जो युवाओं की तो पसन्‍द हो सकते हैं पर मिडि‍ल एज व वृद्ध तो उनकी आवाज सुनना भी पसन्‍द नहीं कर रहे हैं और न ही करते हैं।



वर्तमान दौर के किस संगीतकार को आप पसंद करती हैं?

इस समय केवल हिमेश रेशमिया ही कुछ संगीत इस प्रकार से तैयार कर रहे हैं कि उनके लिए गाने में गायकों को दिक्‍कत नहीं होती है।



आप संगीत में किसे अपना आदर्श मानती हैं?

वैसे तो सभी गायिकाओें का सम्‍मान करती हूं। ऐसे में किसी एक को चुनना आसान नहीं है। फिर भी एक नाम लेना हो तो ऋचा शर्मा का नाम आगे रखना चाहूंगी।


फेसबुक पर हमें फॉलो करें 

 

Share On

 

अन्य खबरें भी पढ़ें

HTML Comment Box is loading comments...

खबरें आपके काम की

 

 

Newsletter

Click Sign Up for subscribing Our Newsletter

 


शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुडी ख़बरें